. घर में पूजा के स्थान में शंख रखें और पूजा के समय रोज़ बजाएं.

. घर में तुलसी का पोधा जरूर लगायें.

. लक्ष्मी की उपासना करें.

. अतिथि की सेवा सत्कार करें.

. ब्राहमणों को भोजन अवश्य कराएं.

. शांत होकर भोजन करें, अत: भोजन करते समय बीच में न बोलें.

. उधार का लिया हुआ पैसा वापस जरूर करें.

. टूटे बर्तन घर में न रखें.

. जानवरों को भोजन अवश्य कराएं.

.मुफ्त में किसी से कोई सामान न लें.

.नाक हमेशा साफ़ रखें.|कपडे अच्छे तरीके से पहनें.

.परमात्मा में आस्था रखें.

. क्रोध न करें.

. जीवन में हमेशा संयम रखें,

.किसी को किसी भी तरह की गाली न दे.

. जूठ न बोलें.

. छोटी कन्याओं का पूजन करायें, तथा भोजन के बाद उत्तम वस्त्र, उत्त, भोजन तथा दक्षिणा दें.

. ध्यान रहे की घर में किसी भी प्रकार का छेद न रहे.

. परिवार में सबके साथ मिलकर रहे.

. माता पिता का अनादर न करें.

. सास-ससुर  व परिवार के सभी सदस्यों का आदर करें.

. रोज सुबह बड़ों का आशीर्वाद लें.

. रोज़ सुबह उठकर अपनी हथेलियों की देखें.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *